Login to your account

Username *
Password *
Remember Me

Create an account

Fields marked with an asterisk (*) are required.
Name *
Username *
Password *
Verify password *
Email *
Verify email *
Captcha *
Reload Captcha

,,मानवाधिकार मिडिया

सब्जी व फल मंडी लगाने के लिए निगम द्वारा स्थाई रूप से स्थान ना दिए जाने के विरोध में धरना प्रदर्शन व क्रमिक अनशन

सोनभद्र /ओबरा नगर की समस्त जनता को बड़े दुख के साथ अवगत करना है ।कि पिछले 35- 40 से बसे बसाये सब्जी मंडी को बिना कोई उपयुक्त स्थान दिये ही। निगम प्रशासन द्वारा उजाड़ा जा रहा है ।जबकि उक्त सब्जी मंडी के द्वारा ही निगम के समस्त कर्मचारी अधिकारी व ओबरा नगर की आम जनता सब्जी व फल की खरीदारी करती है ।इसके बावजूद निगम प्रशासन द्वारा ओबरा नगर की जनता के मौलिक हितों की अनदेखी करते हुए निगम प्रशासन द्वारा बिना अन्य किसी स्थान का निर्धारण किए ही बसे हुए सब्जी व फल मंडी को उजाड़ने का फैसला ले लिया गया है जिसका हम सभी सब्जी व फल व्यवसाई पूर्ण रुप से विरोध करते हैं अतः संगठन हित में हम समस्त सब्जी व फल व्यवसाई बंधुओं ने यह निर्णय लिया है ।कि जब तक निगम प्रशासन द्वारा सब्जी मंडी के लिए स्थाई जगह की व्यवस्था नहीं की जाती है ।तब तक हमारी हड़ताल जारी रहेगी।

 

संवाददाता

मुस्ताक अहमद

कैमरा मैन

रामआश्रय बिन्द

0
0
0
s2smodern

*शातिर अंतर्जनपदीय लुटेरा हेरोईन के साथ गिरफ्तार* 

 

पुलिस अधीक्षक चंदौली संतोष कुमार सिंह के निर्देशा अनुसार अपर पुलिस अधीक्षक क्षेत्रा अधिकारी के निर्देशन में अपराधियों के विरुद्ध चलाए जा रहे अभियान के तहत 'प्रभारी निरीक्षक मुग़लसराय शिवानंद मिश्रा 'प्रभारी निरीक्षक क्राइम ब्रांच तेज बहादुर सिंह को उस समय बड़ी सफलता मिली जब शातिर अंतर जनपदीय लुटेरा योगेश मौर्या 's/o विनोद मौर्य निवासी तड़िया चकबिही सारनाथ वाराणासी को बीती रात 570 ग्राम. हीरोइन के साथ 8:20 बजे शास्त्री नगर थाना मुग़लसराय के पास से गिरफ़्तार किया गया ?             ' गिरफ़्तार योगेश मौर्य के विरुद्ध पूर्वांचल के विभिन्न थानों में ढेड़ दर्जन मुक़दमे पंजीकृत है गैंगस्टर - आर्म्स एक्ट' चोरी "लूट ' योगेश मौर्या वाराणसी के थाना सारनाथ क्षेत्र का टॉप 5 का अपराधी हैं  इसके विरुद्ध थाना स्थानीय मुकदमा संख्या 94/18 धारा 8/21 एनडीपीएस एक्ट पंजीकृत कर के विधिक कार्यवाही की जा रहीं हैं इसके पकड़े जानें से पूर्वांचल में अपराध पर अंकुश लगेगा   

 

 *गिरफ़्तारी बरामदगी करनें वाली टीम*

                                    

प्रभारी निरीक्षक शिवानंद मिश्रा '                                       प्र०नि० तेज बहादुर सिंह क्राइम ब्रांच '                                            HCP- सैजनाथ तिवारी थाना मुग़लसराय -        

                                                                               कांस्टेबल उमेश कुमार थाना मुग़लसराय                                    का०सतीश कुमार थाना मुग़लसराय                                ' का०अरविंद भारद्वाज क्राइम ब्रांच                                     रविन्द्र सिंह क्राइम ब्रांच'                    बृजेश कुमार क्राइम ब्रांच '                   चन्द्रदेव यादव क्राइम ब्रांच'

0
0
0
s2smodern

Block सभागार चंदौली में आज दिनांक २७.०३.१८ को csc e-governance services India लिमिटेड द्वारा CSC रोज़गार मेला का आयोजन किया गया जिसके अंतर्गत Vle मनोज त्रिपाठी जी के सेंटर से ११ दिव्यांग लाभारथीयो को प्रमाण पत्र BDO SHRI संकर प्रसाद सोनकर तथा श्रीमती निशा सिंह समाज कल्याण विभाग के कर कमलो से वितरित किया गया। उपरोक्त कार्यशाला में जनपद के लगभग १०० से अधिक csc के Vle उपस्थित रहे। कार्यशाला में csc के पोर्टल पे चल रहे सभी services के बारे में विस्तृत रूप से जानकारी दी गई, कार्यशाला में शशि शुक्ला प्रबंधक लखनऊ , गौरव यादव csc नई दिल्ली तथा ज़िला प्रबंधक  अजय पांडेय और राम भरोसे एवं जिल समन्वयक आनंद  , हिमांशु , अंकित , सत्येन्द्र उपस्थित रहे।

इस कार्यक्रम में प्रधानमंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान ,भीम एप मरचेन्ट इन्सटालेसन ,F.M.C.G.प्रोडक्ट ,हेल्थ होमियो ,रैप, बैकिग, इन्श्योरेंस, ईत्यादी बिषयो पर चर्चा हुई।

0
0
0
s2smodern

सपा बसपा गठबंधन बेमेल है चल ही नही पायेगा-डा महेंद्र नाथ पाण्डेय

- भासपा के अजगरा विधायक कैलाश सोनकर रुपयों पर बिक गया-

 चौबेपुर(वाराणसी)।चन्दौली के सांसद भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष डा महेंद्र नाथ पाण्डेय ने कहा सपा बसपा का गठबंधन बेमेल है यह नही चल पाएगा।बीच मे टूटना तय है।

डा महेंद्र नाथ पाण्डेय चौबेपुर के भन्दहा गांव स्थित एक प्रेस वार्ता में उक्त बातें कही।उन्होंने कहा सपा बसपा स्वभाविक गठबंधन हो ही नही सकता 1993 में गठबंधन हुआ था।दोनों के कार्यशैली ,आचरण, चरित्र इस समय के लिये उस समय का गवाह है।गठबंधन चल नही पायेगा।अल्प आयु में गठबंधन समाप्त होगा ।1993 में गठबंधन 1995 में  टूट गया।उस समय भाजपा के सामने मजबूरी में गठबंधन बना था।फिर भी भाजपा उस समय भी सबसे अधिक 176 सीटे जीती थी।गठबंधन मात्र 172 एम एल ए सीटे जीती थी।परंतु तत्कालीन राज्यपाल रोमेश भंडारी के गलत निर्णय पर  कल्याण सिंह की सरकार नही बनी।

डा पाण्डेय ने कहा उस समय मे भाजपा कुछ राज्य में ही प्रभावित थी ।आज भाजपा देश के 21 राज्यो में शासन के माध्यम से आम जन की सेवा कर रही है।अमित शाह के कुशल नेतृत्व   प्रधान मंत्री माननीय नरेंद्र मोदी  के करिश्माई नेता के सामने सपा बसपा गठबंधन दो कदम भी नही चलेगा।गठबंधन पूरीतरह  से बेमेल है ।समर्थकों में मेल सम्भव नही है।बसपा कार्यकर्ताओ के जमीन पर सपा के दबंग कब्जा किये है।एकता सम्भव नही है।

भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष डा महेंद्र नाथ पाण्डेय ने भाजपा भासपा गठबंधन पर अजगरा विधायक कैलाश सोनकर के राज्य सभा मे  क्रास वोटिंग पर कहा 40 वर्ष की राजनीति में कार्यर्ताओं ,जनता को ऐसा धोखा देने वाला नही देखा जो  हमारे दल  के जनसमर्थन से चुना हुआ ब्यक्ति केवल रुपयों के लिये बिक गया।चुनाव के समय गठबंधन में सीट गयी।हमको हमारे कार्यकर्ताओं को मालूम था।कैलाश सोनकर बैंक का दलाल है।गरीबो मजदूरों के पैसों का दलाली करता है।पर पार्टी के निर्देशन में गठबंधन धर्म का पालन किया।कार्यकर्ताओ एवं जनता के सहयोग से चुनाव जितवाया।फिर भी रुपयों में बिक गया।अपने जीवन मे इतने अपात्र ,लोभी ब्यक्ति के लिये हमने जनता से मार्कन्डेय महादेव जी से समर्थन मांगा प्रायश्चित कर सभी लोगो से हाथ जोड़कर क्षमा प्रार्थना करता हू।

इस दौरान चन्द्रशेखर सिंह,भोलानाथ उपाध्याय, पंकज त्रिपाठी, जयप्रकाश पाण्डेय,घनश्याम सिंह सहित आदि लोग साथ रहे।डॉ ए के सिंह

0
0
0
s2smodern

 

 

 

गोरखपुर और फूलपुर के चुनावी नतीजे भारतीय जनता पार्टी के लिए एक बड़ा धक्का हैं क्योंकि जिन सीटों पर उन्हें हार मिली है वह उनके मुख्यमंत्री और उप मुख्यमंत्री की लाखों से ज़्यादा वोटों से जीती हुई सीटें थीं.

ये दोनों सीटें उसी उत्तर प्रदेश में हैं जिसने 2014 में नरेंद्र मोदी की ज़ोरदार जीत का रास्ता बनाया था. तो इस लिहाज से ये हार भारतीय जनता पार्टी के लिए ख़तरे का संकेत है.

हालांकि हर चुनाव को अलग-अलग दृष्टिकोण से देखना चाहिए. ये उपचुनाव था और इसमें मतदान प्रतिशत काफ़ी कम था. तो कह सकते हैं कि ये दोनों चुनाव स्थानीय मुद्दे पर लड़े गए. इसके साथ साथ नरेंद्र मोदी और अमित शाह ने प्रचार नहीं किया था.

वहीं दूसरी ओर सपा और बसपा एक हो गए थे. यूपी में बहुजन समाज पार्टी का वोटबैंक 20 फ़ीसदी है, समाजवादी पार्टी का भी 20 फ़ीसदी रहा है, तो ये दोनों एक साथ हो जाएंगे तो उसके सामने किसी तरह की रणनीति के कामयाब होने की गुंजाइश कम होगी.

 

0
0
0
s2smodern
  1. Popular
  2. Trending