Login to your account

Username *
Password *
Remember Me

Create an account

Fields marked with an asterisk (*) are required.
Name *
Username *
Password *
Verify password *
Email *
Verify email *
Captcha *
Reload Captcha

बढ़ते दबाव के चलते एक आरोपी ने किया सरेंडर, जमानत अर्जी ख़ारिज, गया जेल।

 

रिपोर्ट :दीपक श्रीवास्तव गाजीपुर 

-------------------------------

गाजीपुर। जिला चिकित्सालय के आकस्मिक सेवा में लगे डॉक्टर पीपी उपाध्याय के ऊपर हुए हमले के एक आरोपी ने डॉक्टरों के बढ़ते दबाव के चलते आज कोतवाली में सरेंडर कर दिया। कोतवाली पुलिस ने आरोपी का मेडिकल करा कर न्यायलय के समक्ष पेश किया जहां विद्धवान न्यायाधीश ने आरोपी की जमानत याचिका ख़ारिज कर उसे जेल भेज दिया। हमलावरों की गिरफ्तारी को लेकर जिला अस्पताल में आज भी डाक्टरों समेत कर्मचारियों ने धरना दिया। बढ़ाते दबाव तथा माननीय की मिडिया में होती बदनामी से आरोपी ने आज

जिला अस्पताल में धरने पर बैठे डाक्टर एवं कर्मचारी

जमानत याचिका ख़ारिज, गया जेल

बता दे कि धर्मार्थ कार्य मंत्री के कारखासो ने इमरजेंसी ड्यूटी में तैनात डॉक्टर पीपी उपाध्याय को ड्यूटी के दौरान जमकर पीट दिया था। सीसी टीवी में हमलावरों की पहचान होने पर भी पुलिस उनको गिरफ्तार करने में लाचार दिख रही थी पर डॉक्टरों के बढ़ते दबाव और मिडिया में मंत्री जी की हो रही बदनामी से एक आरोपी पूर्व सभासद ऋषि चतुर्वेदी निवासी किला कोहना ने कोतवाली में जाकर सरेंडर कर दिया। कोतवाली पुलिस आरोपी का मेडिकल करा कर न्यायलय ले गयी, जहां जमानत याचिका ख़ारिज होने पर उसे जेल भेज दिया गया। दूसरे आरोपी अनस जमाल ने भी न्यायलय में आत्मसमर्पण करने का प्रार्थना पत्र प्रस्तुत किया है।

आरोपी हमलावर के सेवा सत्कार में दिखी पुलिस

कोतवाली में सरेंडर करने के पश्चात आरोपी ऋषि चतुर्वेदी काफी सहज दिखे। उनके चहरे पर अपने किये का जरा भी पछतावा या भय नहीं दिख रहा था। कोतवाली प्रभारी के कक्ष में चाय नाश्ता लगाकर कोतवाली पुलिस भी पूरी निष्ठां से उनके आव भगत में लगी हुयी थी और मेडिकल कराने के बाद आदरपूर्वक न्यायालय ले गयी। हमलावर आरोपी के कोतवाली में हुए इस प्रकार के आव भगत से लोगो को उसके रसूख का अंदाजा हो गया।


0
0
0
s2smodern
  1. Popular
  2. Trending