Login to your account

Username *
Password *
Remember Me

Create an account

Fields marked with an asterisk (*) are required.
Name *
Username *
Password *
Verify password *
Email *
Verify email *
Captcha *
Reload Captcha

भाकियू ने फिर किया थाने का घेराव, मिलता है सिर्फ आश्वासन

- भाकियू ने कई समस्यायों को लेकर की विशाल पंचायत, दो माह बाद भी सुनवाई जीरो, जय हो योगी सरकार

रायबरेली। भारतीय किसान यूनियन द्वारा अपनी मांगो को लेकर बीते दो माह से अधिक समय से लगातार खीरों ब्लॉक परिसर मे धरना दिया जा रहा है । लेकिन आज तक उनकी मांगे पूरी नहीं हुयी । जिससे नाराज होकर किसान यूनियन ने 9 नवंबर दिन  गुरुवार को आरपार की लड़ाई का ऐलान कर दिया है । जिसमें उन्नाव जनपद के हिलौली ब्लॉक के किसान भी पहुंचे ।गुरुवार की शाम सभी किसानों ने थाने का घेराव किया । इस दौरान थानाध्यक्ष खीरों संजय सिंह से किसानो के बीच काफी झड़प हुयी। किसानो का कहना था कि कई महीनो से धरना चल रहा और कई बार थाने का घेराव भी किया गया किन्तु थानाध्यक्ष संजय सिंह हर बार उन्हे आश्वासन दे देते है | आज-तक एक भी मामले का निस्तारण नहीं कर सके। किसान यूनियन के ब्लॉक अध्यक्ष विष्णु स्वरूप शुक्ला ने बताया कि बीते दो माह से चल रहे धरना के बाद किसी भी सक्षम अधिकारी द्वारा पंचायत मे आकर समस्याओ के समाधान की बात नहीं की गई उन्होने ये भी कहा कि खीरों पुलिस सफ़ेद पोस नेताओ व जिला बदर गुंडाओ के संरक्षण मे कार्य कर रही है जिसके कारण दो महीने से किसान धरने पर बैठे है फिर भी किसानो को न्याया नहीं दे सकी खीरों पुलिस। धरने के मुख्य मुद्दे खीरों पुलिस द्वारा कार्यकर्ताओं को न्याय न मिलना , वर्षों से नहरों में पानी न आना , क्षेत्र में चल रही विजली की परेशानी , क्षेत्र की खस्ता हाल सड़कें , अस्पताल में व्याप्त भ्रष्टाचार आदि प्रमुख हैं । जिसके कारण हम लोगो ने खंड विकास अधिकारी खीरों के माध्यम से जिलाधिकारी को ज्ञापन देकर गुरुवार को बड़ी पंचायत लगाकर आरपार की लड़ाई लड़ने का ऐलान कर दिया है । इस मौके पर खीरों , लालगंज और हिलौली ब्लॉक के किसान मौजूद थे। ब्लॉक अध्यक्ष विष्णु ने कहा कि जब-तक न्याय नहीं मिलेगा तब-तक धरना चालू रहेगा | 


0
0
0
s2smodern
  1. Popular
  2. Trending