Login to your account

Username *
Password *
Remember Me

Create an account

Fields marked with an asterisk (*) are required.
Name *
Username *
Password *
Verify password *
Email *
Verify email *
Captcha *
Reload Captcha

यदुवंशियों पर मुकदमा योगी की हताशा का परिचायक - ओ0पी0

‘जिनकी रग में शोले हो वो कैसे डरे चिंगारी से, हथकड़ियों से, जंजीरों से जेलों की चहार दीवारी से’’
 
रायबरेली। अखिल भारतीय यदुवंशी महासभा उ0प्र0 के प्रांतीय प्रवक्ता ओ0पी0 यादव एडवोकेट ने एक बयान में कहा है कि यदुवंशियों पर मुकदमा योगी सरकार की हताशा का परिचायक है।  श्री यादव ने कहा कि हम आह भी भरते हैं तो हो जाते हैं बदनाम वे कत्ल भी करते हैं तो चर्चा नहीं होती।
    उल्लेखनीय है कि दिनांक 24 सितम्बर 2017 को सहजनवां, संत कबीर नगर में अखिल भारतीय यदुवंशी महासभा का प्रान्तीय सम्मेलन शारदा प्रसाद रावत स्मारक महाविद्यालय में आयोजित हुआ, जिसमें सेना में अहीर रेजीमेंट बनाये जाने, यादव समाज के उत्थान एवं शिक्षा, व्यवसाय आदि पर विचार किया गया।  इसमें शामिल हुए लोगों की भीड़ से योगी सरकार की चूले हिल गयी।  उसी दिन उ0प्र0 के मुख्यमन्त्री योगी आदित्यनाथ व महामहिम राज्यपाल रामनाइक गोरखपुर में थे।  उनके स्वागत में सरकारी तंत्र तो लाव लश्कर के साथ मौजूद था, लेकिन जनता नदारत थी।
    दूसरी तरफ यदुवंशी महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष विजेन्द्र यादव के स्वागत में सोनी इण्टरनेशनल होटल से लेकर महाविद्यालय तक नेशनल हाईवे पर मोटर साइकिलों एवं छोड़ों के काफिला नहीं टूटा।  कार्यकर्ता पूरे उत्साह के साथ गगनभेदी नारे लगा रहे थे।  राष्ट्रीय अध्यक्ष के स्वागत से विचलित सरकार ने पुलिस के जरिये राष्ट्रीय अध्यक्ष सहित तमाम यदुवंशियों पर धारा-143/144/188 आई0पी0सी0 के तहत मुकदमा दर्ज करा दिया।
    पुलिस की इस कार्यवाही ने आग में घी का काम किया, पूरे प्रदेश का यादव गुससे एवं आक्रोश में है।  जिसका खामियाजा उ0प्र0 सरकार को भुगतान पड़ेगा।  श्री यादव ने कहा कि यादव को जेल जाने से कोई भय नहीं है।   हमारे पूर्वज श्री कृष्ण का जन्म ही जेल में हुआ था, ‘‘जिनकी रग में शोले हो वो कैसे डरे चिनगारी से हथकड़ियों से जंजीरों से जेलों की चहार दीवारी से’’  सरकार से माँग की गयी कि यदुवंशियों पर कायम किये गये मुकदमें वापस लिये जाय वरना सरकार अंजाम भोगने को तैयार रहे।  क्योंकि आन्दोलन की चिनगारी शोला बनकर सरकार पर गिरेगी तो सरकार संभाल नहीं पायेगी।  यदि पुलिस ने यादव समाज के एक भी कार्यकर्ता को गिरफ्तार करने का प्रयास किया तो ईट का जवाब पत्थर से दिया जायेगा।

0
0
0
s2smodern
  1. Popular
  2. Trending