Login to your account

Username *
Password *
Remember Me

Create an account

Fields marked with an asterisk (*) are required.
Name *
Username *
Password *
Verify password *
Email *
Verify email *
Captcha *
Reload Captcha

*भेलसर मे भी चोटी कटवा की दस्तक 12 वर्षीय बालिका की तीन टुकडों मे कटी* *चोटी महिलाएं व बलिकाएं खौफजदा देखने वालों का लगा रहा तांतां*

 

भेलसर फैजाबाद.................कोतवाली रुदौली के ग्राम भेलसर में
कक्षा आठ की छात्रा की चोटी कटने से मचा गांव मे हडकम्प वही दूरदराज के
हजारों लोग देखने पहुचें खबर सुनकर सीओ रुदौली व भेलसर चौकी प्रभारी भी
मौके पर पहुचे पुलिस भी हरकत मे आई जांच पडताल मे लग गई|
 जानकारी के मुताबिक कोतवाली रुदौली के ग्राम भेलसर में
मस्जिद के पास आज सुबह 12 वर्षीय कक्षा आठ की छात्रा सानिया बानो पुत्री
मो0 सिराज की चोटी कट गई वह भी लम्बे बालों के सिर्फ आधे बाल कटे और कटने
वाले बालों के तीन टुकडे थे पीडिता सानिया बानो की मां नसरीन ने बताया कि
सुबह जब सोकर उठी थी तब सब कुछ ठीक ठाक था लेकिन स्कूल जाने से पूर्व
दुकान पर तेल व सर्फ लेने गई थी दुकान से आने के बाद सानिया ने बताय कि
नींद आ रही है और जाकर भीतरी कमरे मे लेट गई जहां पर सिर्फ दरवाजा है कोई
खिडकी भी नही है स्कूल जाने का समय हो गया तब तक सानिया लेटी थी तब जाकर
उसके कमरे मे देखा तो सानिया हल्की नींद मे थी उसे जगाया गया तब वह उठकर
बाहर आई तब हम लोगों ने कहा सानिया तुमने अपने बाल क्यों काट डाले इतना
सुनकर सानिया रोनेलगी कहने लगी हम क्यों अपने हाथों से अपने बाल काटेगे
तब हमलोगों ने कमरे मे जाकर देखा कि सानिया की चोटी तीन टुकडो मे कटी
उसके बिस्तर पर पडी है वहीं सानिया का कहना है कि हमे कुछ नही पता हमारी
चोटी कब और किसने काटी हमे बहुत डर लग रहा है सिराज काफी गरीब परिवार से है
  जहां चोटी कटने  को लेकर महौल गर्म है वहीं चोटी कटने का सिसिला
जोरों से आगे  बढ़ता जा रहा है हर जगह हर चौरहों पर सिर्फ चोटी कटवा की
ही सबसे ज्यादा बात होती है सब से ज्यादा डर और खौफ महिलाओ मे देखने को
मिला| चोटी कटवा के डर से महिलाए अपनी बेटीयो को स्कूल जाने से भी रोकने
लगी है इस गर्मी के मौसम मे भी चोटी कटने की डर से अक्सर महिलाए सर मे
स्काफ बॉध कर सोती है महिलाओ ने चोटी कटवा के डर से अपने घरों के दरवेजो
के बीचो बीच मे नीबु और हरी मिर्च का माला लटका रखा है  वही दरवाजो के
देने किनारे पर नीम पत्ती भी लगा रखी है महिलाए अपनी चोटीयो मे  नीम की
पत्ती लगा कर रह रही है औरतो का मानना है की चोटी कटवा नीम की पत्तीयो से
नही आता है चोटी कटवा को लेकर लेगो मे तरह तरह सोच जन्म ले रही है चोटी
कटने को लेकर लोगो मे बहस जारी है कि चोटी कटवा कम्पयुटर द्वारा गिराई
जाने वाली एक बिजली है वहीं कुछ लोगो का कहना है की यह गन्दी आत्माए भूत
परेत सैतान है जो महिलाओ की चोटीयों को काटता है और महिलाओ मे प्रवेश कर
महिलाओ को बेहोश कर देता है वही कुछ लोगो का कहना है की यह एक कीडा है जो
बालो को काटता है  वहीं बुद्धजीवी वर्ग यह सब मनगढ्न्त बाते मानकर
अफवाहों को विराम देने की बात कहता है यह शारार्ती तत्वों की शारारत भी
हो सकती है इससे इंकार नही किया जा सकता है चोटी कटवा को लेकर लेगो मे डर
के साथ साथ आक्रोश भी व्याप्त है  सीएचसी प्रभारी रुदौली डा0 अजय मोहन ने
बताया कि चोटी कटने और बेहोशी से किया वास्ता है तो डाक्टर ने जावाब दिया
की चोटी कटने और बेहोशी से कोई वास्ता नही है यह बेहोशी नही बल्कि
बदहवासी होती है जिसमेजान का कोई खततरा नही होता है यह शरारत भी हो सकती
है अफवाहो की वजह से औरतो मे डर है चोटी कटने पर किसी अनहोनी के बारे मे
सोच कर बेहोश हो जाती है डाक्टर ने अपील की कि किसी तरह की अफवाहो मे न
पडे |चोटी कटने से शरीर पर कोई प्रभाव नही पडता है सिर्फ डर की वजह से
औरते बेहोश हो जाती है
उक्त सम्बन्ध मे क्षेत्राधिकारी रुदौली डी एस कुशवाहा ने बताया कि मौके
पर गया था चोटी तीन टुकडों मे कटी मिली यह स्पष्ट नही है चोटी कमरे के
भीतर कैसे कटी बालों को लैब भेजा गया है मामले की गहन जांच की जा रही है

*मो0 आलम*


0
0
0
s2smodern
  1. Popular
  2. Trending