Login to your account

Username *
Password *
Remember Me

Create an account

Fields marked with an asterisk (*) are required.
Name *
Username *
Password *
Verify password *
Email *
Verify email *
Captcha *
Reload Captcha

कमीशन की भेट चढ़ा प्राथमिक विद्यालय , दीवारों पर दरारे

रायबरेली ऊंचाहार । ब्लाक क्षेत्र के गांव भैसासुर सवैया मे प्राथमिक विद्यालय सन् 2013-14 में नवनिर्मित लाखों की लागत से बनाया गया है। लेकिन प्राथमिक विद्यालय कमीशनखोरी की  भेंट चढ गया है और चार वर्ष मे ही विद्यालय मे दरारे पड़ गयी, जान जोखिम मे रखकर यहां पर बच्चों को शिक्षा व्यवस्था ग्रहण करवाया जा रहा है।बताते चले कि विद्यालय की हालात मौजूदा मे ये है कि विद्यालय के कमरों के दिवार दडक गये है और छत दडकने से वर्शात के दिनो मे पानी कमरों मे बच्चों की षिक्षा दौरान टपकता है। जहां के फर्स इतनी घटिया बनी है कि गिट्टी की जगह फर्स मे महज मिट्टी ही मिट्टी दिख रहा है। जिसके कारण विद्यालय मे टाट पट्टी तक मे बैठने मे परेषानियां बच्चों को हो रही है। दिवारों में लगे घटिया मषाला बिल्डिंग की गुणवत्ता पर साफ साफ सवाल खडे कर रहा है। क्योंकि बिल्डिंग मे हांथ धरते ही यहां दिवार का मसाला छूटने लगता है। कक्ष के हालत ये है कि धंसने लगा है बाऊंड्री भी दडक कर टूटने के कगार पर है। षौंचालय प्रयोग हित नही है दरवाजा तक टूटा हुआ पडा है। ये बिल्डिंग भले ही चार वर्श ही पुरानी है लेकिन इसकी जर्जरता निमार्णाधीन ठेकेदार व विभाग के तत्कालीन अधिकारियों पर सवाल खडा कर रहा है। विद्यालय के प्रभारी प्रधानाध्यापक हरिष्चन्द्र ने बताया कि बिल्डिंग जर्जरता के संदर्भ हमने विभागी लिखापढी लिखित रूप में बीईओ व बीएसए से की है। विद्यालय मे कुल 46 बच्चे पंजीकृत हैं। उधर खण्ड शिक्षाधिकारी अनिल त्रिपाठी ने बताया कि हम उस समय हम नही थे फिलहाल बिल्डिंग इतना जर्जर नही होना चाहिये। क्योंकि बिल्डिंग यदि चार वर्श मे ही खराब होकर दडक रहा है तो निर्माणाधीन ठेकेदार की प्रथम दृश्टयः लापरवाही मानी जायेगी हलाकि मामले मे जांच टीम बैठा दिया गया है जिसके निर्माण खर्च के डिटेल आफिस से खोजबीन किया जा रहा है। जिसके बाद निर्माण करवाने वाले के खिलाफ मुकदमा दर्ज करवाया जायेगा।

रिपोर्ट - सपना पाल


0
0
0
s2smodern
  1. Popular
  2. Trending