Login to your account

Username *
Password *
Remember Me

Create an account

Fields marked with an asterisk (*) are required.
Name *
Username *
Password *
Verify password *
Email *
Verify email *
Captcha *
Reload Captcha

डीएम व एसपी की निगरानी में निकली शिवबरात

  एसके0 सोनी 

-चप्पे चप्पे पर तैनात रही पुलिस

-सीसी टीवी कैमरे की भी थी पैनी नजर, सभी ने की प्रशासन की सराहना

रायबरेली परसदेपुर । कोर्ट का आदेश का पालन करते हुए जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक ने मौके पर जाकर अपनी निगरानी में धूमधाम से निकलवाई शिवबरात। शिवबरात के दौरान पुलिस अधीक्षक ने पुलिस विभाग को दे रखे थे कड़े निर्देश लापरवाही करने वाले तैनात सिपाही पर होगी कार्यवाही। सभी ने पैनी नजर रखकर सकुशल निकलवाई शिवबरात। अराजक तत्वो के लिए प्रशासन ने ड्रोन कैमरे व सी. सी. टी. वी. कैमरे से निगरानी की व्यवस्था की गई थी। गौरतलब हो कि नगर पंचायत परसदेपुर के मुख्य चैराहे के पास रमेश कौशल के घर के पास बने शिव मंदिर मे 21 मार्च सन् 2010 को शिव लिंग स्थापना के लिए शिव बारात निकाली गई थी। पूरे काजी से जैसे ही बारात अन्सार गली मे पहुची थी कि कुछ अराजक तत्वो ने सगीर बेदिल के घर के पास शिव बारात पर धावा बोल दिया और कई लोग घायल हो गए थे। चेयरमैन प्रत्याशी विनोद कौशल ने सन् 2013 मे न्यायालय की शरण ली थी, जहा उच्च न्यायालय ने हाल ही मे प्रशासन द्वारा शिवलिंग स्थापना कराये जाने का आदेश पारित कर दिया। आयोजक गण उपजिलाधिकारी सलोन श्री राम सचान को अवगत कराया। बात न बनने पर जिलाधिकारी अभय सिंह व पुलिस अधीक्षक शिव हरि मीणा से मुलाकात की। तब प्रशासन ने आला अफसरो के साथ व नगर वासियो के साथ कई चरणो की बैठक की। जिसके बाद प्रशासन ने रणनीति तैयार की कि माननीय उच्च न्यायालय के आदेशो के अनुसार शिव लिंग स्थापना करायी जायेगी ।जिसका परिणाम हुआ कि सात बर्ष बाद शिव लिंग स्थापना हो रही है। शिव बारात मे नाई पण्डित यजमान समेत ग्यारह शिव भक्त ही शामिल किए गये थे। 251 पुलिस के जाबाजो के सहारे शिव बारात की पूरी सुरक्षा थी। जो साथ साथ चल रहे थे और शिव बारात की शोभा बढ़ा रहे थे। जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक पूरी कमाकमान संभाले हुए थे। शिव बारात शिव मंदिर से पूरे काजी पश्चिमी से अन्सार चैक से अन्सार गली होते हुए जिल्ला बाजार से साकेत नगर होते हुए शुक्लाना होते हुए कटरा बाजार से बिभिन्न शिव मन्दिरो मे पूजा अर्चना के बाद मेन चैराहे पर समापन हुआ। पुलिस प्रशासन ने नगर पंचायत परसदेपुर के आने के सभी रास्ते किये थे सील। बूटो की धमक व झगड़े की दहशत से दुकान दारो ने नही खोली दुकाने ।मौनी बाबा किये गये कैद। नगर पंचायत परसदेपुर के आने जाने वाले सभी रास्ते पर बैरियर लगाये गये थे। पुलिस ने नगर के अन्दर किसी को घुसने नही दिया ।बाबूगंज सगरा के मौनी बाबा जैसे ही परशदेपुर की सीमा मे घुस रहे थे, पुलिस ने पकड़ लिया और बाइज्जत उनके आश्रम मे ले जाकर नजर बन्द कर दिया । पुलिस के बूटो की धमक व दहशत से कोई भी दुकानदार दुकान खोलने की हिम्मत नही कर सका। जब दुकान दारो को पता चला कि शिव बारात सकुशल सम्पन्न हो गई है तो शाम तक कुछ दुकान दारो ने हिम्मत करके दुकान खोली । पुलिस प्रशासन अभी भी जगह जगह तैनात किये गए है। प्रशासन कोई भी जोखिम नही उठाना चाहता है । प्रशासन का मकसद परसदेपुर मे अमन-चैन किसी भी कीमत पर कायम रखना है


0
0
0
s2smodern
  1. Popular
  2. Trending