Login to your account

Username *
Password *
Remember Me

Create an account

Fields marked with an asterisk (*) are required.
Name *
Username *
Password *
Verify password *
Email *
Verify email *
Captcha *
Reload Captcha

शहीद जवानों की याद में छात्राओं ने निकाला कैंडल मार्च

 खीरों  रायबरेली । विकास क्षेत्र खीरों के श्री सूरज दत्त कांती देवी महिला महाविद्यालय में शनिवार को प्रायोगिक परीक्षा से पूर्व सभी छात्राओं ने सीमा पर शहीद हुए जवानों की याद में कैंडल मार्च निकाला । दो मिनट का मौन रखकर अमर शहीदों को श्रद्धांजली अर्पित की गयी । इस मौके पर चीफ प्राक्टर एसएल गुप्ता व वन्दना सिंह , अर्चना सिंह , श्रीमती नीलम समेत सभी शिक्षिकाएं मौजूद रहीं ।  महिला महाविद्यालय में बीए तृतीय वर्ष की छात्राओं सविता , मुस्कान शर्मा , नीलम , कोमल , सपना तिवारी , सुषमा , शिवानी , वैशाली आदि ने गुरूवार को आतंकवादियों के आत्मघाती हमले में वीरगति को प्राप्त हुए सेना के जवानों की याद में एक कैंडल मार्च निकाला । महाविद्यालय द्वारा आयोजित चित्रकला की प्रायोगिक परीक्षा से पूर्व छात्राओं ने शिक्षण स्टाफ के साथ दो मिनट का मौन रखकर नम आखों से शहीदों को श्रद्धांजलि दिया ।  कैंडल मार्च के मौके पर प्राचार्य डा0 एमडी सिंह ने जम्मू-कश्मीर के कुपवाडा जिले के पंजगाम में आतंकवादी हमले में वीरगति को प्राप्त हुए तीन जवानों की आत्मा की शांति के लिए मौन रखते हुए शहीदों के परिवार को अपार दुःख सहन करने की शक्ति देने की ईश्वर से प्रार्थना किया । उन्होने हमले में घायल हुए सात जवानों की सकुशलता के लिए भी प्रार्थना किया । इस मौके पर प्राचार्य ने पंक्तियां पढी - “शहीदों की चिताओं पर लगेंगे हर बरस मेले , वतन पर मरने वालों का यही बाकी निशां होगा ।“ उन्होने कहा कि धन्य हैं वे जवान जो शरहद पर चौबीसों घंटे मुस्तैद रहकर भारत माता की रक्षा करते हैं और जरूरत पडने पर अपने प्राणों को भी न्यौछावर कर देते हैं । उन अमर सपूतों का देश हमेशा कर्जदार रहेगा जो मातृभूमि की रज को माथे पर लगाकर मां-बाप , भाई-बहन , पत्नी और अपने लाडले बच्चों से दूर देश की रक्षा के लिए जाते हैं और फिर कभी अचानक तिरंगे में लपेटकर उनका पार्थिव शरीर गांव के गलियारों में पहुंचता है । वह दुःखदायी मंजर सामने देखकर बूढे मां-बाप की बुढापे की लाठी , इसका सहारा छूट जाता है । भाई की कलाई पर अपनी रक्षा का संकल्प बाधने वाली बहन का रक्षासूत्र टूट जाता है । भईया के लौटने पर आम के बगीचों में चारपाई बिछाकर सुख-दुःख बांटने का छोटे भाई का सपना अधूरा रह जाता है । कलाई पर सजी चूडियां तोडकर , अपने माथे का सिन्दूर मिटाकर विधवा बनी पत्नी का कलेजा दुःख से फट जाता है । अबोध नन्हें-मुन्ने तो कुछ नहीं जानते पर सबको बिलखता देख उनकी भी चीत्कार गूंजने लगती है। गांव-गली का हर बूढा-बुजुर्ग , साथी-संगाती बिलखने लगता है । कष्ट की महान घडी में भी बूढे मां-बाप अपनी कांपती हुई जबान से बेटे की शहीदी पर गर्व की बात कहते हैं । यह गौरव गाथा हिन्दुस्तान की मिट्टी ने हमें दिया है तभी हम फरिश्ता की पंक्तियां गर्व से गाते हैं - “कुछ बात है कि हस्ती मिटती नहीं हमारी , सदियों रहा है दुश्मन दौरे जहां हमारा।“ कैंडल मार्च के मौके पर प्राचार्य के व्याख्यान को सुनकर सभी की आंखें भर आयीं।

रिपोर्ट - शुभम शर्मा 

""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""

0
0
0
s2smodern
  1. Popular
  2. Trending