Login to your account

Username *
Password *
Remember Me

Create an account

Fields marked with an asterisk (*) are required.
Name *
Username *
Password *
Verify password *
Email *
Verify email *
Captcha *
Reload Captcha

विनोद खन्ना ने दोस्तों से की थी गुजारिश, कोई न आए अस्तपाल में देखने : अरुणा ईरानी

 


विनोद खन्ना पिछले लंबे समय से कैंसर की बीमारी से ग्रसित थे और आज उनका निधन हो गया है। अस्पताल से उनकी एक तस्वीर भी सोशल साईट पर शेयर हुई थी। मशहूर और वेटरन अभिनेत्री अरुणा ईरानी ने उनके साथ कई फिल्मों में अभिनय किया है और वह दोनों करीबी दोस्तों में से थे। अरुणा इस बात से आहत हैं कि उनके दोस्त अब उनके बीच नहीं हैं।
अरुणा ने बताया कि विनोद खन्ना ने खुद अपने दोस्तों से गुजारिश कर रखी थी। अपने परिवार वालों की तरफ से उन्होंने दोस्तों तक संदेसा भिजवा रखा था, कि वह नहीं चाहते थे कि उनके दोस्तों ने जिस तरह से उनको हमेशा एक्टिव और स्वस्थ देखा है, उन्हें वह इस हालात में देखें। इसलिए उन्होंने अपने दोस्तों को अस्पताल आने से रोक रखा था। अरुणा ने यह भी बताया कि जब उनकी तस्वीर सोशल साईट पर आई थी उसके बारे में जान कर भी उन्हें तकलीफ हुई थी कि उनके फैंस उन्हें उस तरह देख रहे हैं। अरुणा ने यह भी बताया कि इसलिए उन्होंने मुंबई के टाउन से दूर के अस्पताल में जाने का निर्णय लिया था।

अरुणा ने बताया कि उनके साथ उन्होंने कई फिल्मों में अभिनय किया है और अरुणा ने उनके साथ बहुत सारे आउटडोर शूटिंग पर भी जाती थीं। विनोद की सबसे अच्छी बात यह थी कि वह हमेशा महिलाओं के साथ काफी शालीनता से रहते थे। कभी भी भद्दे मजाक नहीं करते थे। जब तक सेट पर महिलाएं खाना न खा लें वह नहीं खाते थे। शाम में जब हमारी महफिल जमती थी। तब भी हंसी मजाक होता था, लेकिन वह कभी अधिक बोलते नहीं थे। विनोद को यह बात पता थी कि उनके स्टाइल पर लड़कियां फिदा हैं। वह कितने स्टालिश हैं लेकिन उन्होंने कभी इस बात का घमंड नहीं किया था। आज भी उन्हें अपने स्टारडम का गुमान नहीं था।

अरुणा ने यह भी बोला कि वह मानती हैं कि विनोद खन्ना जैसा अंदाज और अदब और अभिनय की खास शैली जो उनके पास थी। उनके कम्पीटिटर तो सिर्फ और सिर्फ अमिताभ ही थे। अमिताभ ही उन्हें बीट कर सकते थे। उनके अलावा ऐसा कोई भी नहीं था, जो उनकी टक्कर का था। अरुणा से विनोद अपने स्टारडम को लेकर यही कहते थे कि स्टारडम तो एक दिन जाना ही है। इसमें घमंड करने की बात ही क्या है। ये ब्यूटी भी एक दिन चली ही जायेगी। अरुणा और विनोद ने दयावान, कुदरत, कुर्बानी, आन मिलो सजना में काम किया है।


0
0
0
s2smodern
  1. Popular
  2. Trending