Login to your account

Username *
Password *
Remember Me

Create an account

Fields marked with an asterisk (*) are required.
Name *
Username *
Password *
Verify password *
Email *
Verify email *
Captcha *
Reload Captcha

पुलिस नें तहरीर कों चेन्ज कराकर मारपीट में दर्ज किया माम

 

कुरावली। थाना क्षेत्र के ग्राम नगला दया निवासी

लादूध का कारोवार करनें वाले व्यापरी कों घिरोर-कुरावली मार्ग पर ग्राम अशोकपुर के सामनें लगभग दस दिन पूर्व गांव के ही रहनें वाले कुछ लोगों नें एक राय होकर घेर कर लाठी डंडों और तंमचा की बटों से मारपीट कर गम्भीर रूप सें घायल कर दिया था। जिससें वह बेहोश हो गया था। औंछा पुलिस के द्वारा उसें पीएचसी में भर्ती कराया गया था जहां सें उसे गम्भीर हालत में जिला चिकित्सालय के लिए रैफर कर दिया गया था। मारपीट के दौरान आरोपियों नें व्यापारी सें पचास हजार सें ज्यादा रूपये की लूट भी कर ली थी। घायल के पुत्र का आरोप है कि पुलिस नें लूट की तहरीर कों बदलवा कर केबल मारपीट की धाराओं में मामलें कों दर्ज किया है। जनपद के थाना औंछा के ग्राम नगला दया निवासी मनोजकुमार पुत्र रामशरन बीतें 25 दिसम्वर की प्रातः 9 बजें डेरी पर दूध पहुॅचा कर वापस अपनें गांव मोटरसाइकिल द्वारा लौट रहे थें। तभी कुरावली थाना क्षेत्र के ग्राम अशोकपुर कें सामनें पहलें सें घात लगायें बैठे नगला दया निवासी रणजीत पुत्र ऊदलसिंह, मेघसिंह पुत्र गंगाराम, दिलीप कुमार पुत्र केशवसिंह, सोनू व तेजवीर पुत्रगण हुकुमसिंह नें एक राय होकर रास्तें में घेर लिया और लाठी डंडों और तंमचा की बटों से मारपीट कर गम्भीर रूप सें घायल कर दिया। मनोज के चीखनें चिल्लानें पर ग्राम अशोकपुर के ग्रामीण आ गयें जिनके आनें पर आरोपी उसें बेहोशी की हालत में पड़ा छोड़ कर भाग गयें। सूचना पर पहुॅचे मनोज के पुत्र सत्यवीर के द्वारा उसें थाना औंछा ले जाया गया जहां पर पुलिस के द्वारा उसें पीएचसी में भर्ती कराया गया जहां सें उसें चिकित्सकों के द्वारा जिलाचिकित्सालय के लिए रैफर कर दिया गया। औंछा पुलिस के द्वारा मामला कुरावली क्षेत्र में होने के चलतें कस्बा के थानें में भेज दिया जहां की पुलिस मामलें को जांच की बात कहकर लटकाए रहीं। मनोज के पुत्र सत्यवीर सिंह का आरोप है कि उसके पिता डेरी पर दूध देने के बाद पचास हजार रूपये की पेमेन्ट लेकर आयें थें। जिसें आरोपियों के द्वारा छीन लिए गयें। लेकिन पुलिस के द्वारा लूट की तहरीर कों बदलवा दिया गया और केबल मारपीट की तहरीर ही लिखी गई। पुलिस के द्वारा उसके साथ न्याय नहीं किया है। इस सम्वन्ध में जब थाना प्रभारी आशीष कुमार सिंह सें बात की गई तो उन्होने बताया कि मामले को दर्ज कर लिया गया है। अब बिवेचना में जो भी सामनें आयेगा उसके अनुरूप कार्रबाई अमल में लाई जायेगी।

रिपोर्टर नफीस अली


0
0
0
s2smodern
  1. Popular
  2. Trending