Login to your account

Username *
Password *
Remember Me

Create an account

Fields marked with an asterisk (*) are required.
Name *
Username *
Password *
Verify password *
Email *
Verify email *
Captcha *
Reload Captcha

*कराटे चैम्पियनशिप का आयोजन।*

    चौबेपुर  (वाराणसी )

 

क्षेत्र के एसओएस हरमन माइनर स्कूल  दानियालपुर डुबकिया में शुक्रवार को वारणसी शोटोकाॅन कराटे एसोसिएशन के तत्वावधान मे अन्तरविद्यालयी जिला कराटे चैम्पियनशिप का आयोजन किया गया जिसमे एसओएस हरमन माइनर स्कूल, सेट जेवियर, सम्राट अशोक पब्लिक स्कुल, आर एस कान्वेंट, ज्ञानदिप, सनबिम चोलापुर के छात्रो ने भाग लिया। कार्यक्रम का शुभारंभ विद्यालय के प्रधानाचार्य पाॅल पी वी ने किया। एसओएस ने 15 स्वर्ण, 10 सिल्वर और 12 कांस्य पदक हासिल किया। सम्राट अशोक ने 20 स्वर्ण, 5 सिल्वर और 3 कांस्य पदक प्राप्त किया। आरएस कान्वेंट ने 12 स्वर्ण, 5 सिल्वर और 7 कांस्य पदक प्राप्त किया।इस मौके पर कृष्ण कुमार, आनंद पाठक,प्रियंका शर्मा आदि कई प्रमुख लोग शामिल रहे ।

0
0
0
s2smodern

तिरंगा  झण्डा लिए रैली संग रवाना हुए केंद्रीय मंत्री

चौबेपुर:स्थानीय एक महिला विद्यालय के कार्यक्रम के बाद केंद्रीय मंत्री डा महेंद्र नाथ पाण्डेय बुलेट मोटर साइकिल पर सवार होकर तिरंगा झण्डा लेकर रैली संग चोलापुर के लिए चौबेपुर,मुनारी होते रवाना हुए।इस दौरान विधायक कैलाश सोनकर,चन्द्रशेखर सिंह,भोला नाथ उपाध्याय,जय प्रकाश पाण्डेय,पंकज,आकाश,अमीत सिंह,सीता मिश्रा,चन्द्र मोहन पाण्डेय,इंद्र जीत सिंह ,घनस्याम सिंह सहित कार्यकर्ताओ ने तिरंगा झण्डा लेकर केंद्रीय मंत्री के पीछे चोलापुर के लिए रवाना हुए।

0
0
0
s2smodern

कैथी व धौरहरा में किशोरियों की कटी चोटी ।

चौबेपुर (वाराणसी )क्षेत्र के कैथी गांव में शुक्रवार को मीना राजभर 28 वर्ष की खाना बनाते समय चोटी कट गयी।

वह छप्पर में दिन के दस बजे खाना बना रही थी अचानक लगा कोई खीचा है।पलट कर देखी कोई नही था ।चोटी गिरा पड़ा था।देख बेहोश हो गयी।परिजन  एम्बुलेन्स बुलाया चोलापुर दवा कर घर छोड़ दिया।गुरुवार को प्रातः इसी बस्ती में रेनू राजभर का भी चोटी कटा था।

 इसी तरह धौरहरा गांव में विजय गोड़ की लड़की मकान की छत पर सोई हुई थी । भोर में अचानक  चोटी कट गई । वह चिल्लाने लगी तो परिवार आसपास के लोग पहुंचे तो वहां एक जन्तु देख कर भयभीत हो गई । आये दिन हो रही घटनाओ को लेकर दहशत का माहौल कायम हो गया है ।

0
0
0
s2smodern

 जोधपुर महानगर में विश्व हिंदू परिषद की स्थापना दिवस पर विशेष शोभायात्रा का आयोजन किया गया जिसमें जोधपुर महानगर के विश्व हिंदू परिषद के कार्यकर्ता एवं पदाधिकारियों ने मिलकर एक शोभायात्रा का आयोजन किया गया
रात्रिकालीन में शोभायात्रा गांधी मैदान से प्रारंभ होकर कुंज बिहारी मंदिर तक चली जिसमें कार्यकर्ताओं के साथ शहर की तमाम लोग झांकियों को देखने के लिए उमड़ पड़े।

0
0
0
s2smodern

भारतीय जनता पार्टी कार्यकर्ताओ ने स्वच्छता के लिए मन्दिर की साफ सफाई की 

     चौबेपुर  (वाराणसी )

चौबेपुर कस्बे के प्राचीन रामजानकी मन्दिर प्रांगण में भारतीय जनता पार्टी द्वारा चलाए जा रहे स्वच्छ भारत मिशन के तहत शनिवार की सुबह चौबेपुर मण्डल के कार्यकर्ताओ ने मण्डल अध्यक्ष भोलानाथ उपाध्याय के नेतृत्व में साफ सफाई अभियान चलाकर चतुर्दिक झाड़ू लगाकर गन्दगी को परिसर से बाहर किया ।इस मौके पर अभय गुप्ता, नवीन सेठ, प्रिंस चौरसिया, अजय गुप्ता, अकेला, रिन्कू तिवारी, गंगा प्रसाद, शंकर विश्वकर्मा, आदि प्रमुख कार्य कर्ता शामिल रहे ।

0
0
0
s2smodern

*पत्रकार पिता के अंतिम दर्शन/संस्कार में श्रद्धांजलि के लिए जुटी हजारों की भीड़*

✍ *नम आँखों से दी गयी अंतिम विदाई*

✍ *लंबे समय से जिंदगी की जंग लड़ रहे थे पत्रकार साथी के पिता जी*

✍ *लखनऊ के डॉ राम मनोहर लोहिया आयुर्विज्ञान संस्थान में कल हुआ था निधन*

मानवाधिकार मीडिया

फैज़ाबाद:-
जनपद के रुदौली तहसील के ग्राम सभा टांडा खुलासा निवासी मानवाधिकार मीडिया के ब्यूरो चीफ
पत्रकार साथी
सैय्यद अब्दुल वहीद के पूजनीय पिता स्वर्गीय अब्दुल हफ़ीज़ के अंतिम दर्शन के लिए आज उनके पैतृक गांव में लोगों का तांता लगा रहा नम आँखों से हर किसी ने पत्रकार साथी के पिता को भावभीनी श्रद्धांजलि दी आज उनका पार्थिव शरीर रीत रिवाजों के अनुसार पंचतत्व में विलीन हो गया
बता दें कि स्वर्गीय अब्दुल हफ़ीज़ पिछले कई दिनों से बीमार थे और जिंदगी और मौत के बीच संघर्ष कर रहे थे उनका लखनऊ के डॉ राम मनोहर लोहिया आयुर्विज्ञान संस्थान में इलाज चल रहा था
जहाँ पर कल उन्होंने ने अपनी अंतिम सांस ली ।।
अंतिम संस्कार में क्षेत्र के तमाम जनप्रतिनिधियों के अलावा समस्त पत्रकार साथी और श्रद्धा सुमन अर्पित करने के लिए हजारों की तादाद में लोग उपस्थित थे ।।

0
0
0
s2smodern

मदद करने में एटीएम ले उड़ा 15 हजार निकाला ।

       चौबेपुर  (वाराणसी )

क्षेत्र के गौराकलां बाजार में बैंक में रुपया निकालने गये युवक की मदद के नाम पर एटीएम ले उड़ा  ।उसके खाते से 15 हजार रुपए निकाल लिया । मोबाईल पर मैसेज मिलने पर थाने आकर भुक्तभोगी ने रिपोर्ट दर्ज कराई ।

  क्षेत्र के गौरा कलां बाजार में बभनपुरा गाँव के जयप्रकाश यादव अपनी स्टेट बैंक का एटीएम लेकर एक्सीस बैंक के एटीएम में पहुंचा वहां खड़े युवक ने मदद कर पांच हजार रुपये निकाल कर उसे देकर उसका एटीएम लेकर चंपत हो गया ।थोड़ी देर बाद जब 15 हजार रुपए निकालने का मोबाइल पर मैसेज प्राप्त हुआ तो उसके होश उड़ गये ।भुक्तभोगी ने चौबेपुर थाने आकर रिपोर्ट दर्ज कराई ।

0
0
0
s2smodern

 
 
 
 
 
वैदेही वेलफेयर फाउंडेशन सामाजिक संस्था द्वारा
आया सावन झूम के हरियाली दुल्हन 2017
कार्यक्रम संपन्न हुआ जिसमें महिलाओं ने लाल और हरे सांस्कृतिक परिधान पहनकर नाच गाना मेहंदी, और सावन के गीत गाए और भारतीय संस्कृति और अपने भारतीय परम्परा पर पर्व मनाया
वैदेही वेलफेयर फाउंडेशन की
अध्यक्षा डॉ रूबी राज सिन्हा
ने यह समाज को एक सन्देश दिया कि हमारी संस्कृति और पर्व आज भी महिलाओं दिल में प्यार और विश्वास भरती है इस इस कार्यक्रम में श्रीमती नसीमा रजा जो शाही* *खानदान की बेगम साहिबा है
*श्रीमती मधु सुभाष जो अचूक समाचार सम्पादिका* है
*श्रीमती ममता सिंह चौहान जो ऐस आल ग्लोबल स्कूल की मुख्य शिक्षिका* है
*डा ज्योतसना और श्रीमती रेनू श्रीवास्तव*
*मानव अधिकार मीडिया के प्रमुख राज मोहन सिन्ह भी मुख्य अतिथि रहे*
और *श्रीमती शालिनी लाल लखनऊ शेफ की अध्यक्षा है*
यह गौरवशाली महिलाएं जो समाज में नारी शक्ति करण का उदाहरण है हरियाली *दुल्हन कार्यक्रम की मुख्य* *अतिथि रही*
इनके अलावा 55 महिलाओं ने कार्यक्रम में लाल और हरे परिधान पहनकर सजधज कर प्रतिभागी की और *माडलिंग और रैंप वाक करके जलवे बिखेरे*
*बैदेही फाउंडेशन की अध्यक्षा डा रूबी राज सिन्हा ने भी महिलाओं के साथ रैंप वाक की और नृत्य किया*
*वैदेही वेलफेयर फाउंडेशन की अध्यक्ष डॉ रुबी राज सिन्हा ने और सचिव ई प्रशान्त प्रवीण सिन्हा ने अलग अलग टाइटल्स मुकुट सर्टिफिकेट और सस्ता के प्रतीक चिन्ह के साथ सम्मानित किया, 55 महिलाओं को सस्था का स्मृति चिन्ह, सर्टिफिकेट, टाइटल और मुकुट टियारा से सम्मानित किया गया, ये सम्मान ई प्रशांत प्रवीण सिन्हा और अचूक समाचार पत्र की सम्पादक श्रीमती मधु सुभाष जी के हाथो दिया गया*

साथ ही कार्यक्रम में मेहन्दी, गायन, नृत्य, और अन्य कई प्रतियोगिता क्राई गयी जिसमें महिलाओं ने विविध उपहार जीते और बहुत मस्ती की
*कार्यक्रम मे महिलाओं का फोटोशूट भी कराया गया*
सभी प्रतिभागियों को *वैदेही वेलफेयर फाउंडेशन की तरफ से मोमेंट सर्टिफिकेट मुकुट और तोहफे* दिए गए इस कार्यक्रम में महिलाओं मुख्य अतिथि, इन्दरेश भैया, राज मोहन सिंह, भूषण अग्रवाल के साथ मीडिया भी शामिल रही
0
0
0
s2smodern

दरवाजे बंधी भैंस चोरी 

      चौबेपुर  (वाराणसी 

 क्षेत्र के जय रामपुर गांव में राधेश्याम वर्मा की भैंस दरवाजे पर बंधी थी रात में घर के सभी सदस्य सोए हुए थे ।रात में किसी समय चोरों ने भैंस को चुराकर गायब हो गए सुबह जब  पशुपालक  की नींद खुली तो भैंस नदारत थी पशुपालक  ने आस-पास के गांव में काफी खोजबीन की लेकिन भैंस का पता नहीं चला  उस भैंस की कीमत  ₹70000 बताया गया है ।

#डिप्टी ब्यूरो संदीप मिश्रा#

वाराणसी

0
0
0
s2smodern

1. भगवान शिव का कोई माता-पिता नही है. उन्हें अनादि माना गया है. मतलब, जो हमेशा से था. जिसके जन्म की कोई तिथि नही.

2. कथक, भरतनाट्यम करते वक्त भगवान शिव की जो मूर्ति रखी जाती है उसे नटराज कहते है.

3. किसी भी देवी-देवता की टूटी हुई मूर्ति की पूजा नही होती. लेकिन शिवलिंग चाहे कितना भी टूट जाए फिर भी पूजा जाता है.

4. हम शिवरात्री इसलिए मनाते है क्योंकि इस दिन शंकर-पार्वती का ब्याह हुआ था.

 

5. शंकर भगवान की एक बहन भी थी अमावरी. जिसे माता पार्वती की जिद्द पर खुद महादेव ने अपनी माया से बनाया था.

6. भगवान शिव और माता पार्वती का 1 ही पुत्र था. जिसका नाम था कार्तिकेय. गणेश भगवान तो मां पार्वती ने अपने उबटन (शरीर पर लगे लेप) से बनाए थे.

7. भगवान शिव ने गणेश जी का सिर इसलिए काटा था क्योकिं गणेश ने शिव को पार्वती से मिलने नही दिया था. उनकी मां पार्वती ने ऐसा करने के लिए बोला था.

 

8. भोले बाबा ने तांडव करने के बाद सनकादि के लिए चौदह बार डमरू बजाया था. जिससे माहेश्वर सूत्र यानि संस्कृत व्याकरण का आधार प्रकट हुआ था.

9. शंकर भगवान पर कभी भी केतकी का फुल नही चढ़ाया जाता. क्योंकि यह ब्रह्मा जी के झूठ का गवाह बना था.

10. शिवलिंग पर बेलपत्र तो लगभग सभी चढ़ाते है. लेकिन इसके लिए भी एक ख़ास सावधानी बरतनी पड़ती है कि बिना जल के बेलपत्र नही चढ़ाया जा सकता.

11. शंकर भगवान और शिवलिंग पर कभी भी शंख से जल नही चढ़ाया जाता. क्योकिं शिव जी ने शंखचूड़ को अपने त्रिशूल से भस्म कर दिया था. आपको बता दें, शंखचूड़ की हड्डियों से ही शंख बना था.

12. भगवान शिव के गले में जो सांप लिपटा रहता है उसका नाम है वासुकि. यह शेषनाग के बाद नागों का दूसरा राजा था. भगवान शिव ने खुश होकर इसे गले में डालने का वरदान दिया था.

 

13. चंद्रमा को भगवान शिव की जटाओं में रहने का वरदान मिला हुआ है.

14. जिस बाघ की खाल को भगवान शिव पहनते है उस बाघ को उन्होनें खुद अपने हाथों से मारा था.

15. नंदी, जो शंकर भगवान का वाहन और उसके सभी गणों में सबसे ऊपर भी है. वह असल में शिलाद ऋषि को वरदान में प्राप्त पुत्र था. जो बाद में कठोर तप के कारण नंदी बना था.

16. गंगा भगवान शिव के सिर से क्यों बहती है ? देवी गंगा को जब धरती पर उतारने की सोची तो एक समस्या आई कि इनके वेग से तो भारी विनाश हो जाएगा. तब शंकर भगवान को मनाया गया कि पहले गंगा को अपनी ज़टाओं में बाँध लें, फिर अलग-अलग दिशाओं से धीरें-धीरें उन्हें धरती पर उतारें.

17. शंकर भगवान का शरीर नीला इसलिए पड़ा क्योंकि उन्होने जहर पी लिया था. दरअसल, समुंद्र मंथन के समय 14 चीजें निकली थी. 13 चीजें तो असुरों और देवताओं ने आधी-आधी बाँट ली लेकिन हलाहल नाम का विष लेने को कोई तैयार नही था. ये विष बहुत ही घातक था इसकी एक बूँद भी धरती पर बड़ी तबाही मचा सकती थी. तब भगवान शिव ने इस विष को पीया था. यही से उनका नाम पड़ा नीलकंठ.

18. भगवान शिव को संहार का देवता माना जाता है. इसलिए कहते है, तीसरी आँख बंद ही रहे प्रभु की. 

0
0
0
s2smodern
  1. Popular
  2. Trending