Login to your account

Username *
Password *
Remember Me

Create an account

Fields marked with an asterisk (*) are required.
Name *
Username *
Password *
Verify password *
Email *
Verify email *
Captcha *
Reload Captcha

जिला पंचायत सदस्यों का उत्पीड़न कताई बर्दाष्त नहीं-अखिलेश सिंह

download.jpg

एस के सोनी

रायबरेली। पूर्व सदर विधायक अखिलेश  सिंह ने प्रेस वार्ता कर कहा कि जिला पंचायत अध्यक्ष पर अविष्वास प्रस्ताव जो टला। उसमें एमएलसी द्वारा जिला पंचायत सदस्यों को धमकाया जा रहा है ये कताई बर्दाष्त नहीं किया जायेगा। रायबरेली की पुलिस द्वारा जो लोकतन्त्र के विरोधियों की मदद करके यह साबित कर दिया है कि पुलिस पैसे की होती है। जिला पंचायत सदस्यों की लगभग आधा दर्जन दी गई तहरीरों पर कुछ पर तो मुकादमा पंजीकृत हुआ परन्तु कार्यवाही के नाम पर कुछ नहीं। एमएलसी द्वारा जिला पंचायत सदस्य गीता देवी डीह, खीरो के शेर बहादुर, के घर पर हमले की एफआईआर दर्ज है और जिला पंचायत सदस्य रानी लोधी के भतीजे का अपहरण की एफआईआर दर्ज है। और राजेन्द्र पासी महराजगंज जिला पंचायत सदस्य के घर में आगजनी का प्रयास हुआ और जिला पंचायत सदस्य स्माइल उर्फ भुट्टो को फोन पर एमएलसी द्वारा धमकी दी गई। पूर्व जिला पंचायत सदस्य मनोज पासवान के साथ भी मारपीट की गई। और जिला पंचायत सदस्य मोनू वर्मा बछरावॉ को जान से मारने की धमकी दी गई। इस तरह की अनेक घटनाओं में पुलिस ने अब तक कोई कार्यवाही नहीं की। पुलिस ने अपना जमीर पैसे के लिए बेच दिया। जिला पंचायत सदस्यों पर को रहे उत्पीड़न के खिलाफ मै सारे जिला पंचायत सदस्यों को मै भरोसा दिलाना चाहता हूॅ कि मै सदैव उनके साथ खड़ा रहूंगा। और सघर्श के समय से ही आम जन मानस से नेतृत्व का जन्म होता है। और जिला पंचायत सदस्यों पर ये जुल्म बर्दास्त नहीं किया जायेगा। जनता इसका बदला जरूर लेगी। क्योंकि रायबरेली की जनता ने सदैव न्याय किया है गुंडा गर्दी पुलिस के सरंक्षण में की जा रही है। और यह बहुत ही निन्दनीय है। शासन प्रशासन गुन्डों की मदद के लिए तत्परता से लगा रहा। कई एफआईआर लिखे जाने के बाद भी कोई गिरफ्तारी नहीं हुई। श्री सिंह ने कहा कि अगर इसी तरह चलता रहा तो इसके परिणाम घातक होंगे। 


0
0
0
s2smodern
  1. Popular
  2. Trending