Login to your account

Username *
Password *
Remember Me

Create an account

Fields marked with an asterisk (*) are required.
Name *
Username *
Password *
Verify password *
Email *
Verify email *
Captcha *
Reload Captcha

मंगल का 60 हजारवां चक्कर पूरा करेगा -ओडिसी

लगभग 14 साल से मंगल के चक्कर लगा रहा अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा का उपग्रह मार्स ओडिसी 23 जून को एक बड़ी उपलब्धि हासिल करने जा रहा है। इस दिन यह उपग्रह मंगल के 60 हजार चक्कर पूरे कर लेगा। इस उपग्रह का नाम आर्थर सी क्लार्क के लोकप्रिय उपन्यास  ‘2001: ए स्पेस ओडिसी’ के नाम पर रखा गया था।
ओडिसी को सात अप्रैल 2001 को केप केनेरेवल से छोड़ा गया था और उसने 23 अक्टूबर 2001 को मंगल की परिक्रमा शुरू की थी। ओडिसी ने 15 दिसंबर 2010 को सबसे अधिक समय तक मंगल के चक्कर लगाने के रिकॉर्ड अपने नाम किया था। ओडिसी ने मंगल की सतह के नीचे पानी की खोज की है जो कि बर्फ के रूप में है। अब भी यह इस लाल ग्रह के बारे में कई अहम जानकारियां भेज रहा है और सतह की खाक छान रहे मार्स रोवर के साथ संचार का अहम साधन है। ओडिसी 46 करोड़ किमी की दूरी तय कर पृथ्वी से मंगल पर पहुंचा था और उसके बाद मंगल की कक्षा में 1.43 अरब किमी की दूरी तय कर चुका है। नासा की 2030 में मंगल पर मानव मिशन भेजने की योजना है जिसमें ओडिसी के मिले आकड़ों की अहम भूमिका होगी। इस पर लगा थर्मल एमिशन इमेजिंग सिस्टम अब तक 208240 तस्वीरें भेज चुका है। साथ ही गामा रे स्पेक्ट्रोमीटर ने मंगल पर हाइड्रोजन की पुष्टि की है। भारत का पहला अंतरग्रहीय मिशन मंगलयान भी मंगल के चक्क लगा रहा है और पिछले कुछ दिनों से सुषुप्तावस्था में है। मंगलयान ने भी मंगल के सतह की कई अहम तस्वीरें भेजी हैं।


0
0
0
s2smodern
  1. Popular
  2. Trending