Login to your account

Username *
Password *
Remember Me

Create an account

Fields marked with an asterisk (*) are required.
Name *
Username *
Password *
Verify password *
Email *
Verify email *
Captcha *
Reload Captcha

जेएनयू से लापता हुए छात्र नजीब अहमद के आईएसआईएस से जुड़ने की ख़बर प्रसारित करने के ख़िलाफ़ उनकी मां फ़ातिमा नफ़ीस ने 2.2 करोड़ रुपये का हर्जाना मांगा है. नई दिल्ली: जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) के छात्र नजीब अहमद की मां फातिमा नफीस ने कुछ मीडिया संस्थानों के खिलाफ मानहानि का मुकदमा दर्ज किया है. मीडिया रिपोर्ट में उनके बेटे को आतंकवादी संगठन आईएसआईएस का समर्थक बताने के चलते उन्होंने 2.2 करोड़ रुपये का हर्जाना मांगा है. अक्टूबर, 2016 में नजीब कैंपस से गायब हो गया था और अभी तक लापता है. लाइव लॉ की रिपोर्ट के अनुसार टाइम्स ऑफ इंडिया, टाइम्स नाउ, दिल्ली आजतक के साथ इंडिया टुडे ग्रुप के रिपोर्टर के खिलाफ दिल्ली हाईकोर्ट में याचिका दायर की गई है. इसमें 2.2 करोड़ रुपये हर्जाने के साथ सभी लेख और रिपोर्ट को हटाने की मांग की गई है. फातिमा ने यह भी बताया कि वो पहले भी दिल्ली आजतक को एक कानूनी नोटिस भेज चुकी हैं, लेकिन उनकी तरफ से किसी भी प्रकार का कोई जवाब नहीं आया. फातिमा ने ह्यूमन राइट लॉ नेटवर्क की मदद से याचिका दायर कर दावा किया है कि मार्च, 2017 की टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट में बताया गया है कि पुलिस सूत्रों के अनुसार नजीब गायब होने वाले दिन 14 अक्टूबर, 2016 से एक दिन पहले आतंकवादी संगठनों के बारे में इंटरनेट पर सर्च कर रहा था. गौरतलब है कि लापता होने से पहले कैंपस में नजीब के साथ कथित तौर पर आरएसएस की छात्र इकाई अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद से जुड़े छात्रों ने मारपीट की थी. टाइम्स ऑफ इंडिया ने 21 मार्च, 2017 को फ्रंट पेज पर पत्रकार राज शेखर झा की एक रिपोर्ट प्रकाशित की थी, जिसमें किसी अनजान व्यक्ति से बातचीत के बाद दावा किया गया था कि नजीब अहमद के इंटरनेट ब्राउजिंग हिस्ट्री के अनुसार वो आतंकवादी संगठन आईएसआईएस के बारे में जानकारी हासिल कर रहा था. टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के बाद बहुत सारे टीवी चैनलों ने यह खबर चलाई थी. टाइम्स ग्रुप के सहयोगी चैनल टाइम्स नाउ ने ‘Najeeb searched for information on ISIS’ स्क्रीन पर फ्लैश कर दिया. हालांकि इस खबर की पुष्टि दिल्ली पुलिस ने नहीं की गई थी. बाद में दिल्ली पुलिस ने इस बात का खंडन किया. दिल्ली पुलिस ने कहा कि नजीब की इंटरनेट ब्राउजिंग हिस्ट्री में आईएसआईएस से जुड़ा कुछ भी नहीं था. लाइव लॉ के अनुसार फातिमा ने कहा कि जब अधिकारियों ने कहा है कि जांच में आईएसआईएस और नजीब के बीच कुछ नहीं मिला है, उसके बावजूद भी मीडिया संस्थान ने अभी तक वो स्टोरी वापस नहीं ली है.< टाइम्स ऑफ इंडिया ने 22 मार्च, 2017 को एक छोटे से कॉलम में लिख दिया था कि पुलिस अधिकारियों ने नजीब का आईएसआईएस की जानकारी हासिल करने की बात को खारिज कर दिया है.

0
0
0
s2smodern

Related image

 

     चौबेपुर (वाराणसी)

क्षेत्र के कादीपुर रेलवे स्टेशन के समीप ट्रेन से कटने से युवक की मौत हो गई । सुबह स्टेशन मास्टर ने पुलिस को सूचना दी । 

  कादीपुर रेलवे स्टेशन के सिंग्नल के समीप विनोद कुमार 33 वर्ष पुत्र निकामू राम निवासी बकैनी मुनारी की लाश रेलवे ट्रैक के समीप मिली । जिसका पैर कट गया था । व चेहरे पर चोट के निशान थे । परिजनों ने बताया कि वह रविवार की सुबह 8 बजे काम करने निकला था । शाम की पहर चौबेपुर बाजार में दिखाई दिया था ।ट्रेन के पास कैसे पहुंच गया यह बात समझ में नही आ रही है ।या किसी ने मारकर फेंक दिया ।फिरहाल शव को जीआरपी लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया ।मृतक के पास तीन मासूम बच्चीयां हैं ।पत्नी रेनू का रो रो बुरा हाल है

0
0
0
s2smodern

Image result for dead bodyबांसवाड़ा में चाय की चाहत में गई पत्नी की जान 

 

 

बांसवाड़ा.

जिले के अरथूना थाना क्षेत्र के लालपुरा गांव में अपने पति के लिए चाय बनाते समय स्टोव भभकने से गुरुवार को एक शिक्षिका शत प्रतिशत झुलस गई। उसे अचेतावस्था में महात्मा गांधी चिकित्सालय में भर्ती कराया गया, जहां उसने थोड़ी ही देर में दमतोड़ दिया। इसके बाद परिजन बगैर पोस्टमार्टम के ही शव को अपने साथ ले गए।

 

 

पुलिस के अनुसार लालपुरा निवासी शिक्षिका कमला घर पर अपने पति रामलाल के लिए चाय बना रही थी। अचानक स्टोव भभका और आग उसकी साड़ी ने पकड़ ली। इस पर कमला चिल्लाई तो मौके पर मौजूद पति रामलाल एवं कमला के बेटे तथा अन्य लोग दौड़कर आए और उन्होंने आग पर काबू पाने का प्रयास किया, लेकिन आग की लपटें तेज थीं जिन पर काबू पाने में काफी परेशानी का सामाना करना पड़ा।

 

 

इसके बाद जैसे-तैसे आग पर काबू पाया और विवाहिता को चिकित्सालय ले गए गया, जहां चिकित्सकों ने कमला की गंभीर स्थिति देखते हुए उपचार शुरू किया,लेकिन उसने दम तोड़ दिया।

0
0
0
s2smodern

 

आदिवासी इलाक़ों में क़त्ल की बढ़ती घटनाओं से  झारखंड के सामाजिक कार्यकर्ता चिंता में हैं. ये सारी हत्याएं शक और जागरूकता के अभाव के कारण हो रही हैं.

. पिछले तीन महीने के दौरान पारिवारिक हत्या में कम से कम तीन दर्जन लोग मारे गए हैं. दरअसल इन घटनाओं की वजह से आदिवासी परिवार टूट-बिखर रहे हैं. इससे सामाजिक तानाबाना बिगड़ने के ख़तरे भी बढ़े हैं

चाईबासा, खूंटी, रांची, दुमका, गुमला, पूर्वी सिंहभूम, सिमडेगा, पाकुड़ जैसे आदिवासी बहुल ज़िलों के गांवों में इन घटनाओं का सिलसिला जारी है.पुलिस के मुताबिक अधिकतर घटनाओं में पत्नी, बच्चे, मां-बाप मारे जा रहे हैं. 'डायन' के शक में भी हत्याएं हो रही हैं
चार जून को रांची में एक युवक ने सौतेले पिता की कथित तौर पर हत्या इसलिए कर दी कि उसे शराब पीने के लिए पैसे नहीं दिए.
.

0
0
0
s2smodern

Image result for lalu yadav

 

 

 

नई दिल्ली: लालू यादव की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं. प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने होटल अलॉटमेंट के केस में लालू और उनके परिवार के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज किया है.लालू पर आरोप है कि रेलमंत्री रहने के दौरान उन्‍होंने रेलवे की होटलों को औने-पौने दामों में चलाने का ठेका दिया था. ईडी ने दिल्‍ली में लालू, राबड़ी देवी, तेजस्‍वी और अन्‍य के खिलाफ मामला दर्ज किया है.

 

 

लालू के परिवार के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग का आरोप लगाया गया है. यह मामला मामला साल 2006 में रेलवे के होटल आवंटन में गड़बड़ी से जुड़ा है. उस समय लालू यादव रेल मंत्री थे.

 

 

मालूम हो कि लालू यादव पर रेलवे में होटल टेंडर मामले में कथित भ्रष्टाचार के आरोप लगे हैं, जिसकी जांच चल रही है. आईआरसीटीसी के होटलों को लीज पर देने के मामले में सीबीआई पहले से लालू व उनके खिलाफ केस दर्ज की चुकी है. सीबीआई ने लालू यादव के कई ठिकानों पर छापेमारी भी की थी. इसके अलावा लालू प्रसाद यादव की सांसद बेटी मीसा भारती के खिलाफ भी बेनामी संपत्ति मामले में जांच चल रही हैं.

इससे पहले मीसा के ऊपर आयकर विभाग ने 50 करोड़ की संपत्ति अटैच की है. आयकर विभाग की ये कार्रवाई मीसा भारती के बार-बार पूछताछ के लिए बुलाए जाने के बावजूद न पहुंचने पर हुई थी.मीसा पर करीब 1000 करोड़ की बेनामी संपत्ति के मामले में जांच चल रही है.लालू यादव की बेटी मीसा भारती के साथ ही उनके दामाद शैलेश कुमार और मंत्री बेटे तेजस्वी यादव के खिलाफ भी जांच चल रही है.

बिहार में महागठबंधन टूटने के बाद लालू प्रसाद यादव ने गुरुवार को कहा कि केंद्रीय जांच एंजेसियों द्वारा उनके परिवार के खिलाफ भ्रष्टाचार के संबंध में मामला दर्ज कराने के लिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के साथ मिलकर ‘साजिश रची.’

चारा घोटाला मामले में सीबीआई की अदालत में पेश होने के बाद लालू ने कहा, “नीतीश कुमार ने बिहार के लोगों को धोखा दिया है. मैं आरोप लगाता हूं कि नीतीश कुमार ने मेरे और मेरे परिवार के खिलाफ सीबीआई में मामला दर्ज कराने के लिए भाजपा के साथ गठजोड़ किया.”

 

उन्होंने कहा कि उप मुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेने वाले सुशील मोदी को उनके परिवार के सदस्यों की छवि खराब करने के लिए अभियान चलाने के लिए कहा गया.नीतीश कुमार और सुशील मोदी के शपथ लेने के तुरंत बाद लालू यादव ने यह टिप्पणी की. 

0
0
0
s2smodern

लखनऊ:-

पूर्व मंत्री गायत्री प्रसाद प्रजापति को मंगलवार को पाक्सो एक्ट में जमानत मिलने के बाद राजधानी पुलिस ने उनके खिलाफ दर्ज सभी मामलो में न्याययिक अभिरक्षा में लेने की अर्जी कोर्ट में दी ।

गौतम पल्ली से सम्बंधित धोखाधड़ी व कूट रचना के मामले में एसीजेएम ने प्रजापति को न्याययिक हिरासत में 14 दिन के लिए जेल भेज दिया, वही सिजेएम ने भी आरोपी मंत्री को 10 मई तक के लिए जेल भेज दिया, गोमतीनगर में दर्ज दुराचार के एक मामले में पूर्व मंत्री को न्यायिक अभिरक्षा में लेने की अर्जी पर सुनवाई के लिए सीजेएम ने 27 अप्रैल की तारिक तय की है । गौतम पल्ली पुलिस ने वादी रोहित की ओर से दर्ज कराई गयी धोखाधड़ी की रिपोर्ट में एसीजेएम को कोर्ट मे अर्जी देकर गायत्री को न्यायिक हिरासत में लेने की मांग की । इस पर एसीजेएम ने प्रजापति को न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया ।

 

 गायत्री की जमानत को दी जायेगी चुनौती

 

पूर्व मंत्री गायत्री प्रसाद प्रजापति फ़िलहाल जेल में रहेंगे । दुष्कर्म मामले मे जमानत हासिल होने के बाद पुलिस ने उन पर दर्ज अन्य मामलो में विधिक शिकंजा कसना शुरू कर फिया है । वही पुलिस दुष्कर्म मामले में गायत्री को मिली जमानत को हाई कोर्ट में विधिक चुनौती देने के साथ ही जमानत निरस्त कराने के लिए याचिका दायर करने की भी तैयारी कर रही है ।

सपा सरकार के पूर्व मंत्री गायत्री प्रसाद प्रजापति की मुश्किलें अभी काम होती नजर नही आ रही । वरिष्ठ पुलिस अधिकारियो के मुताबिक दुष्कर्म मामले में गायत्री को जमानत दिए जाने से पूर्व विवेचना का पक्ष नही सुना गया । डीआईजी लखनऊ रेंज प्रवीण कुमार के मुताबिक दुष्कर्म मामले में  जमानत को हाई कोर्ट मे विधिक चुनौती दी जायेगी । इसके लिए शासन को भी एक प्रस्ताव भेजा गया है । पुलिस बल कैंसिलेशन की विधिक प्रक्रिया को भी अपनाएगी । वरिष्ठ अधिकारियो ने एसएसपी को पूर्व मंत्री के खिलाफ दर्ज मामलो की विवेचना व विधिक प्रक्रिया पर कड़ी नज़र रखने के निर्देश दिए है ।

0
0
0
s2smodern

 

 

 

Image result for tree fall on auto in ranchi

 
 
रांची।यहां भारी बारिश के बीच रातू थाना क्षेत्र के गोविंद नगर में मंगलवार को एक पेड़ चलते ऑटो पर गिर पड़ा। इससे ऑटो में सवार तीन लोगों की मौत हो गई। छह लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। पेड़ इतना बड़ा था कि ऑटो चूर-चूर हो गया। काफी संख्या में लोग जुटे...
 
 
 
-मरने वालों में शोभा रानी( 24), नंदकुमार गुप्ता (35) और चंदन उरांव (30) शामिल हैं। घटना के बाद आसपास काफी संख्या में लोग जुट गए।
-स्थानीय पुलिस भी मौके पर पहुंची तब किसी तरह से घायलों को अस्पताल पहुंचाया गया, जहां उनका इलाज चल रहा है।
-मिली जानकारी के अनुसार लंबे समय से गोविंद नगर में यह तुंद का पेड़ सूखा पड़ा हुआ था। स्थानीय लोगों ने प्रखंड कार्यालय में आवेदन देकर कई बार पेड़ को कटवाने की मांग की थी।
- इसके बावजूद प्रशासन ने इस ओर ध्यान नहीं दिया। आखिरकार भारी बारिश होने की वजह से पेड़ अपने जड़ से अलग हो गया और आज सुबह ऑटो पर मौत बनकर गिरा। इससे लोगों में भारी आक्रोश है।
0
0
0
s2smodern

Image result for violent crime

बेलसरी में शुक्रवार 23 दिसंबर की शाम 4 बजे जय प्रकाश पांडेय के हालर मिल के पट्‌टे में फंसकर 8 वर्षीय अजय रजक उर्फ प्रियंशु की मौत हो गई। पुलिस ने पंचनामा कर शव का पोस्टमार्टम कराया। मामले पर पुलिस ने देर रात पोस्टमार्टम रिपोर्ट मिलने पर धारा 287, 304 ए के तहत अपराध पंजीबद्ध किया था। इसके बाद भी आरोपी मिल मालिक की गिरफ्तारी नहीं की गई थी। इस बात से गुस्साए मृतक के परिजन शनिवार की सुबह 10 बजे शव लेकर थाने पहुंच गए। जहां आरोपी मिल मालिक को गिरफ्तार करने की मांग करने लगे। इसके बाद आनन-फानन में पुलिस बेलसरी पहुंची। जहां से आरोपी मिल मालिक 51 वर्षीय जयप्रकाश पांडेय पिता धात्रीदत्त को गिरफ्तार का थाने लाई।मिल मालिक की गिरफ्तारी को लेकर परिजनों ने शव के साथ थाने का घेराव किया। आरोपी की गिरफ्तारी के बाद परिजनों का गुस्सा कम हुआ और वे शव को लेकर गांव लौटे।

0
0
0
s2smodern

  अशोक कुमार 

रायबरेली। सदर कोतवाली क्षेत्र के मनिका सिनेमा के सामने बीती रात चोरो ने एक मोबाइल शॉप से मोबाइल ऐसेसिरीज व नगदी पार कर दिया जो लाखो के बताए जा रहे है।घटना बीती रात की बताई जा रही हैं,  विशाल एंटरप्राइजेज के नाम से मोबाइल शॉप की दुकान में चोरो ने दुकान का ताला काटकर दुकान के अंदर रखे 25 मोबाइल, 20 हज़ार नगद व मोबाइल एसेसिरीज़ की समान पार कर दी। आज सुबह जब दुकान मालिक अर्जुन कनौजिया अपनी दुकान खोलने आया तो दुकान का सटर आधा खुला हुआ था व ताले कटे पड़े थे। दुकान खोलकर जब उसने देखा तो उसके होश उड़ गए, दुकान का लगभग कीमती हर समान गायब हो चुका था। दुकानदार के पैरों से जैसे जमीन खिसक गई थी। दुकानदार ने इसकी सूचना पुलिस को दी। मौके पर पहुंचे सिविल लाइन चौकी इंचार्ज व फोरेंसिक टीम ने दुकान की जांच की व सैंपल इकठ्ठा किये, फिलहाल चोरो ने बहुत शातिराना ढंग से चोरी को अंजाम दिया था। पुलिस घटना की जाँच में जुट गई है और जल्द ही चोरो को गिरफ्तार करने की बात कह चुकी है।

0
0
0
s2smodern

 

राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग ने महाराष्ट्र में बीजेपी के एक विधायक द्वारा दलितों की तुलना कथित तौर पर सूअर से करने के मामले में महाराष्ट्र सरकार और राज्य पुलिस प्रशासन से तथ्यात्मक रिपोर्ट मांगी है तथा संबंधित जनप्रतिनिधि के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने के लिए भी कहा है.

अनुसूचित जाति आयोग ने डोंबीवली से बीजेपी विधायक रवींद्र चव्हाण के इस कथित विवादित बयान को लेकर तथ्यात्मक रिपोर्ट की मांग करते हुए कल महाराष्ट्र सरकार, राज्य के पुलिस महानिदेशक और ठाणे के पुलिस आयुक्त को नोटिस जारी किया.

आयोग के अध्यक्ष पी एल पूनिया ने बताया, ‘‘देश में दलितों पर लगातार हमले हो रहे हैं. अत्याचार और भेदभाव की घटनाएं बढ़ रही हैं. ऐसे में एक जनप्रतिनिधि की ओर से दलितों की तुलना सूअर से करना बेहद गंभीर और अत्यंत निंदनीय विषय है.’’

उन्होंने कहा, ‘‘हमने राज्य सरकार और पुलिस प्रशासन से तथ्यात्मक रिपोर्ट मांगी है और इस विधायक के खिलाफ संबंधित धाराओं के तहत प्राथमिकी दर्ज करने के लिए कहा है.’’

पूनिया ने कहा कि राज्य सरकार और पुलिस प्रशासन से रिपोर्ट मिलने के बाद आयोग आगे की कार्रवाई करेगा.

मीडिया की खबरों के अनुसार हाल ही में ठाणे में स्मार्ट सिटी से संबंधित एक कार्यक्रम के दौरान चव्हाण ने मोदी और फडणवीस सरकार की ओर से किए जा रहे विकास कार्य का उल्लेख करते हुए दलितों की तुलना कथित तौर पर सूअर से की थी.

0
0
0
s2smodern
  1. Popular
  2. Trending