Advertisement

अपराधिक घटना के मुख्य षडयंत्रकारी को मुल्जिम बनाये जाने व अपनी जान माल की सुरक्षा को लेकर एसपी को सौपा पत्रएसपी को कवूली शपथपत्र व अपने व्यानों की वीडियो सीडी सौपकर किया मुख्य षडयन्त्रकारी के गुनाहों का पर्दाफासएसपी से आपराधिक घटनाओं के मुख्य सरगना पर कार्यवाही कर मुख्य आरोपी बनाये जाने की मांगललितपुर। नगर तालबेहट के मु0 तिवरयाना निवासी रेहान तनय वफाती राईन ने अपराधिक घटना के मुख्य षडयंत्रकारी को मुल्जिम बनाये जाने व अपनी जान माल की सुरक्षा को लेकर अपना कबूली शपथ पत्र,वीडियों व्यान सहित एक प्रार्थना पत्र पुलिस अधीक्षक प्रमोद कुमार को सौपा है व वह मूल प्रार्थनापत्र भी सौपा है जिसपर से उक्त षडयन्.त्रकारी का नाम हटवाकर मामला दर्ज किया था। एसपी को दिये प्रार्थना पत्र में बताया गया कि वह गरीव मजदूर व्यक्ति है व वह तालबेहट एक व्यक्ति के यह मजदूरी करता था,इन्होने उससे दिनांक 21.01.2019 को एक दैनिक समाचार पत्र के चीफ व्यूरो पर प्राणधातक हमला कर जान से मारने हेतु उकसाया एवं उसको दुकान मकान व वाईक दिलाने का वादा किया जिससे लालच मे आकर उसने पत्रकार पर लाठी से हमला किया किन्तु वह बचकर भाग गया और अगले दिन पुलिस द्वारा न्यायालय में उसे पेश किया गया,जहा से हमला कराने वाले षडयन्त्रकारी ने मेरी जमानत करवादी एवं घर ले आये और मे इनके यहा मजदूरी करता रहा। इसी दौरन चुनाव पोलिग पर बिजली कि फिंटिंग का कार्य षडयन्त्रकारी के भान्जे द्वारा कराया जा रहा था कि भांन्जे और प्रिन्स अहिरवार मे झगडा हो गया। षडयन्त्रकारी को जब झगडे की जानकारी प्राप्त हुयी तो वह तुरन्त मुझे अपने आठ दस साथियो सहित लेकर पार सिंह की दुकान पर गया,वहां प्रिन्स अहिरवार कार्य कर रहा था जो षडयन्त्रकारी को देखकर खडा हो गया तभी षडयन्त्रकारी ने अपनी कमर से पिस्टल निकालकार मुझे दी और प्रिन्स अहिरवार पर उसके द्वारा गोली चलवाई,जिसमे वह वाल वाल बच गया। प्रिन्स अहिरवार ने तभी कोतवाली तालबेहट जाकर प्रार्थना पत्र दिया जिस पर तत्कालीन प्रभारी निरीक्षक ने मूल प्रार्थना पत्र मे से षडयन्त्रकारी का नाम हटवा लिया तब रिपोर्ट दर्ज की गयी एवं पुलिस द्वारा उसको गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया। जेल जाने के बाद से षडयन्त्रकारी द्वारा उसकी किसी प्रकार की मदद नही की गयी और ना ही कोई वादा पूरा किया गया। उसके परिवार वालों ने जैसे तैसे कर्जा लेकर उसकी जमानत करवाई। बताया गया की उसने उक्त दोनो मुकद्दमों मे मा0 न्यायालय ललितपुर मे शपथ पत्र एवं इकवालिया व्यान की सीडी जमा कर दी है जिसकी जानकारी षडयन्त्रकारी को हो गयी है व षडयन्त्रकारी एक रूतवेदार व एक समाचार पत्र का तालबेहट तहसील सम्वाददाता है,जिसकी प्रशासनिक एवं राजनैतिक पहुॅच भी है,जो मुझे किसी गलत अपराध मे फॅसा सकता है,साथ ही यह एक शातिर व अपराधिक पृवत्ति का व्यक्ति है जो मेरे साथ कोई भी अप्रिय घटना घटित करा सकता है,उसने अपनी जानमाल की सुरक्षा व संलग्‍न शपथ पत्र के अनुसार मुकद्दमों मे षडयंत्रकारी को मुख्य आरोपी घोषित कर कार्यवाही करने की मांग की है।

मानवाधिकार मीडिया से राजेंद्र पुरोहित की रिपोर्ट

Advertisement